दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना 2022 | Delhi Shopping Festival Yojana

दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना 2022 | दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल आयोजन 2022 | दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल | दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना के लाभ | दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना के उद्देश्य

नमस्कार दोस्तों, दिल्ली में बढ़ती जनसंख्या की वजह से बेरोजगारी की बड़ी समस्या पैदा हो गई है। दिल्ली जैसे छोटे राज्य में आबादी के अनुसार संसाधनों की काफी कमी है। कारणवश यहां के लोगों के जीवन में काफी समस्याएं उत्पन्न हो गई है। इस बढ़ती हुई जनसंख्या की जरूरतों को पूरा करने के लिए दिल्ली की सरकार ने बजट 2022-23 में कई रोजगारीक योजनाओं को प्रारंभ किया हैं। वित्त मंत्री श्रीमान मनीष सिसोदिया जी द्वारा कहा गया कि दिल्ली की कुल कार्यशील आबादी का वर्तमान 33 प्रतिशत से बढ़ाकर 45 प्रतिशत तक ले जाने का लक्ष्य बजट 2022-23 में रखा गया है। अर्थात आने वाले 5 वर्षों में दिल्ली में लगभग 20 लाख नई नौकरियों का सृजन करना होगा और कहा कि ये लक्ष्य हासिल करना इतना आसान नहीं है फिर भी हम इसे पाने की पूरी कोशिश करेंगे।

Delhi Shopping Festival Yojana

कुछ समय पहले ही दिल्ली सरकार के बजट 2022-23 में वित्त मंत्री श्री मनीष सिसोदिया जी ने दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना की घोषणा की। वित्त मंत्री ने संबोधन करते हुए कहा कि दिल्ली अनेक मशहूर बाजारों का राज्य है तथा हर बाजार की अपनी ऐतिहासिक पहचान है। वर्तमान में दिल्ली राज्य में खुदरा या फुटकर बाजारों की तादाद लाखों में है और ये लाखों लोगों के रोजगार का कारण भी है। यही सब दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना को काफी अहम बनाते है।

आधुनिक शॉपिंग मॉल्स के समय में दिल्ली के प्रख्यात बाजारों के प्रति लोगों का झुकाव अभी भी बरकरार है। दिल्ली तथा इसके आसपास के राज्यों जैसे यूपी, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब आदि के निवासी यहां आकर थोक व खुदरा व्यापार करते हैं। लोगों का दिल्ली के बाजारों में अभी भी विश्वास बरकरार है। आज दिल्ली के मशहूर बाजारों के लिए विकास तथा अन्य सुविधाओं की जरूरत है। सरकार की सहायता से इन बाजारों को और बेहतर तरीके से सहयोग प्रदान कर अच्छी पहचान दिलाई जा सकती है तथा इन बाजारों का विकास होने से लाखों लोगों के लिए रोजगार भी बढ़ेगा।

दिल्ली सरकार द्वारा जारी बजट 2022- 23 में वित्त मंत्री ने बताया कि अगले 5 सालों में इन मशहूर बाजारों को विकसित करके इनको पर्यटन स्थल का रूप देना है। इसके कारण दिल्ली राज्य में पर्यटन बढ़ने के साथ होटल, रेंस्त्रा, फूड हब, आदि का विकास होने की भारी संभावना है अर्थात इन सब क्षेत्रों में भी रोजगार में भी बढ़ोतरी होगी। दिल्ली की सरकार द्वारा शुरु में राज्य के 5 मशहूर बाजारों के लिए दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना को आयोजित करने का फैसला लिया गया है। इन सभी बाजारों को 100 करोड़ रुपए की लागत के साथ विकसित करने का निर्णय लिया गया है तथा इन 5 बाजारों से अगले 5 वर्षों में लगभग 1.50 लाख नौकरियां उत्पन्न करने का लक्ष्य रखा है।

यह भी पढ़ें- दिल्ली फ्री बस पास योजना 2022

Delhi Shopping Festival Yojana Motive

वित्त मंत्री द्वारा बजट 2022-23 में बताया गया कि दिल्ली में खरीदारी करना अपने आप में एक खुशी का अनुभव है। सरकार की योजना है कि सिर्फ दिल्ली के लोग ही नहीं बल्कि पूरे देश तथा विदेश के निवासी भी दिल्ली में खरीदारी करने के लिए आएं। जितनी ज्यादा आबादी में लोग यहां शापिंग के लिए आएंगे उतनी ज्यादा यहां की इकोनामी में भी बढ़ोत्तरी होगी तथा नए रोजगार पैदा करने में मदद मिलेगी। इन्हीं सब कारणों के लिए सरकार द्वारा लोगों को आमंत्रित किया जाएगा तथा प्रोत्साहन भी दिया जाएगा और शॉपिंग को उत्सव जैसा बनाने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली में दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल का आयोजन किया जाएगा। ये आयोजन मुख्यत: उन लोगों के लिए होगा जो दिल्ली के मशहूर बाजारों में खरीदारी का आनंद उठाना चाहते हैं तथा भ्रमण करना चाहते हैं। दिल्ली सरकार द्वारा राज्य में रोजगार बढ़ाने हेतु दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल के साथ ही दिल्ली होलसेल फेस्टिवल को भी प्रोत्साहन देने की घोषणा की गई है। इन दोनों योजनाओं के लिए 250 करोड़ रुपए के संयुक्त बजट का प्रावधान किया है।

यह भी पढ़ें- इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना

Delhi Shopping Festival Yojana Key Points

SchemeDelhi Shopping Festival Yojana
Year2022-23
Started ByDelhi Government
MotiveTo get rid of Unemployment
BeneficiaryCitizens of Delhi

Delhi Shopping Festival Yojana Benfits

दिल्ली सरकार द्वारा राज्य में रोजगार को बढ़ाने के लिए कई योजनाओं को शुरू किया गया हैं। वित्त मंत्री द्वारा दिल्ली में खरीदारी के महत्व को ध्यान में रखते हुए इसको प्रसारित करने के लिए दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल नाम की एक महत्वपूर्ण योजना को प्रारंभ किया गया है। दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना का सफलतापूर्वक आयोजन करके, लोगों को आकर्षित करके, उनको दिल्ली में खरीदारी करने हेतु प्रोत्साहन प्रदान करना है, जिसके कारण खरीदारी बढ़े एवं और भी नए शॉपिंग मॉल्स खुलें, ताकि और भी ज्यादा लोगों को रोजगार मिल सके तथा दिल्ली की अर्थव्यवस्था मजबूत हो सकेदिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना के लाभ निम्नलिखित हैं-

  • दिल्ली में शाॅपिंग करने हेतु बाहरी लोगों के आगमन से पर्यटन में बढ़ोतरी मिलेगी।
  • इस योजना के आयोजन से दिल्ली के लोकल बाजारों की पहचान देश अथवा विदेश में हो पाएगी जिससे लोग यहां खरीदारी के लिए आकर्षित होंगे।
  • दिल्ली शाॅपिंग फेस्टिवल को आयोजित करने से यहां के स्थानीय उत्पादों को वैश्विक पहचान मिलेगी।
  • दिल्ली शाॅपिंग फेस्टिवल को आयोजित करने से दिल्ली में लोगों का आगमन बढ़ेगा जिससे यहां के होटल, फूड हब, आदि का भी विकास होगा।
  • इसके आयोजन से दिल्ली में लोगों का आगमन बढ़ेगा जिससे वो सब यहां के मनोरंजन तथा स्थानीय खानपान का आनंद प्राप्त कर सकेंगे।
  • दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल को आयोजित करने से स्टार्टअप कल्चर को भी बढ़ावा मिलेगा और हम सभी जानते है कि स्टार्टअप भी रोजगार देने में बहुत बड़ी भूमिका प्रदान करते हैं।
  • दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल के आयोजन के समय खरीददारों को स्पेशल तथा आकर्षित करने वाले डिस्काउंट भी प्रदान किए जाएंगे।
  • इस फेस्टिवल को सरकार प्रोत्साहन देने के लिए सभी प्रकार से सहायता करेगी, जैसे दुकानदारों, होटल मालिकों, तथा उद्यमियों को एसजीएसटी रिफंड देकर उन्हें डिस्काउंट ऑफर प्रदान करेगी।
  • दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल के आयोजन से देशी-विदेशी पर्यटकों की आबादी में चार लाख की बढ़ोतरी होगी, जैसे होटल इंडस्ट्री, पर्यटन इंडस्ट्री तथा अन्य व्यवसाय में काफी ज्यादा फायदा होगा और इस वजह से 12 लाख लोग सीधे प्रभावित होंगे, उम्मीद है इस योजना से कम से कम 25 प्रतिशत व्यापार को बढ़ोतरी मिलेगी।
  • दिल्ली राज्य के स्थानीय व्यापार करने वालों को ऑनलाइन शॉपिंग से कड़ी टक्कर मिल रही है, दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना इस समस्या को काफी हद तक कम करने में सफल साबित होगी।
  • दिल्ली में एशिया का सबसे बड़ा रेडीमेड गारमेंट और इस बाजार को वास्तविक पहचान दिलाने में दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना काफी मददगार साबित होगी।

यह भी पढ़ें- पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रेन योजना

Wrapping Up

दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना का मूल्यांकन करने के बाद कहा जा सकता है कि दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की गई दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना का अगर सही से क्रियान्वयन हुआ तो ये योजना दिल्ली से बेरोजगारी को समाप्त करने में बहुत बड़ी भूमिका निभा सकती हैं।

उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको ये जानकारी पसंद आई होगी, अगर ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और ऐसी ही अन्य महत्वपूर्ण जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट को फालो जरूर करें तथा नोटीफिकेशन बेल को भी दबाए।
धन्यवाद!

यह भी पढ़ें- अग्निपथ योजना की विशेषताएं 2022

FAQ-

प्रश्न- Delhi Shopping Festival Yojana क्या है?
उत्तर- दिल्ली में बढ़ती बेरोजगारी को समाप्त करने के लिए सरकार द्वारा Delhi Shopping Festival Yojana को प्रारंभ किया गया है।

प्रश्न-Delhi Shopping Festival Yojana का मुख्य उद्देश्य क्या है?
उत्तर- देश-विदेश से ग्राहकों को दिल्ली में आकर्षित कर शॉपिंग करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

प्रश्न- Delhi Shopping Festival Yojana क्या है?
उत्तर- दिल्ली में थोक व्यापार को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार ने दिल्ली होलसेल शॉपिंग फेस्टिवल का आयोजन करेगी।

प्रश्न- Delhi Shopping Festival Yojana का कुल बजट कितना है?
उत्तर- Delhi Shopping Festival Yojana तथा दिल्ली होलसेल फेस्टिवल योजना का कुल बजट लगभग 250 करोड़ रुपए का है।

1 thought on “दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल योजना 2022 | Delhi Shopping Festival Yojana”

Leave a Comment