उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 | Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 | मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना | मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना की पात्रता | मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना उद्देश्य एवं लाभ | उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन | रजिस्ट्रेशन | डॉक्यूमेंट

नमस्कार दोस्तों, उत्तरप्रदेश आबादी के मामले में भारत का सबसे बड़ा राज्य है। इस राज्य में काम करने वाले लोगों की जनसंख्या देश में सबसे अधिक है। उत्तर प्रदेश के कर्मकार अथवा श्रमिक जो असंगठित क्षेत्र में कार्य करते हैं एवं जिनका पंजीकरण है उनको उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा बीमा कवर दिया जाएगा। इस राज्य के असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले श्रमिक काफी गरीब होते हैं और ये अपने परिवार का बमुश्किल ही पेट भर पाते हैं, उन्हें कम वेतन मिलता है, इस वजह से ये अच्छे स्वास्थ्य, अच्छी शिक्षा, अच्छे रहन-सहन से वंचित रह जाते हैं । जिंदगी की भागम भाग की वजह से ये अपना सुरक्षा बीमा भी नहीं करा पाते हैं क्योंकि हम सभी जानते है कि प्राइवेट कंपनियों द्वारा बीमा काफी महंगी दरों पर दिया जाता है, इसलिए असंगठित क्षेत्र के श्रमिक महंगे बीमा दरों की वजह बीमा से वंचित रह जाते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को बीमा सुरक्षा प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 को शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत दुर्घटना की स्थिति में बीमा कवर दिया जाएगा।

अतः सीएम दुर्घटना बीमा योजना 2022 की संपूर्ण जानकारी जैसे इस का योजना का उद्देश्य क्या है, लाभ क्या है, पात्रता क्या है, योग्यता क्या है, ऑनलाइन आवेदन कैसे करें इत्यादि की जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश सेफ सिटी योजना 2022

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana

उत्तर प्रदेश में असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की आबादी लगभग 4.5 करोड है। इन सभी श्रमिकों को बीमा का लाभ देने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश की सरकार ने मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना की शुरुआत की है। इसके तहत असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिको को बीमा का लाभ प्रदान किया जाएगा। श्रमिकों को बीमा का लाभ प्रदान करने की सरकार का उद्देश्य असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले पंजीकृत श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है। दुर्घटना बीमा योजना का लाभ श्रमिकों के परिजनों अथवा नॉमिनी को प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना उत्तर प्रदेश के तहत श्रमिक की दुर्घटनावश मृत्यु अथवा विकलांगता की स्थिति में अधिकतम ₹2 लाख की आर्थिक मदद की जाएगी। इससे राज्य के 4.5 करोड़ असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को लाभ होगा जिससे उन्हें सामाजिक सुरक्षा भी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें- निषादराज बोट सब्सिडी योजना 2022

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Motive

असंगठित क्षेत्र के श्रमिक काफी गरीब हैं ये काफी संघर्षों के साथ अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं, इसलिए उनको आर्थिक समस्या का सामना हमेशा करना पड़ता है, और इसी वजह से वो अपना एवं अपने परिवार का बीमा कराने में असमर्थ रहते हैं, कारण है कि प्राइवेट बीमा कंपनियों द्वारा बीमा की दरें काफी अधिक होती हैं। इसीलिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना को शुरू किया गया है।

उत्तर प्रदेश की आबादी ज्यादा होने के कारण यहां असंगठित क्षेत्र में मजदूरी करने वालों की जनसंख्या भी बहुत अधिक है। इस राज्य के लगभग 4.5 करोड़ लोगों को बीमा का लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 की शुरुआत की गई है। इस योजना के द्वारा असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा एवं उनके परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। ऐसे श्रमिक जो दुर्घटना होने पर अपना इलाज नहीं करवा सकते हैं, उनको दुर्घटना की स्थिति में ₹2 लाख तक बीमा कवर दिया जाएगा। मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 से जुड़े दस्तावेज, योग्यता एवं विशेषताओं की जानकारी के लिए इस लेख को आगे तक पढ़ते रहें।

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Charactristics

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के लाभ एवं उद्देश्य इस प्रकार हैं-

  • इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत कर्मकारों को दिव्यांगता अथवा मृत्यु की स्थिति में उनके परिवार को ₹2 लाख तक आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत प्रदेश के लगभग 4.5 करोड़ असंगठित श्रमिकों को लाभ प्रदान किया जाएगा, जिससे उन्हें सामाजिक एवं आर्थिक सहायता प्रदान होगी।
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 के तहत मृत्यु या विकलांगता की स्थिति में ₹2 लाख, दोनों हाथ या दोनों पैर अथवा दोनों आंख के खराब होने पर श्रमिको को ₹2 लाख दिए जाएंगे।
  • दुर्घटना बीमा योजना की एक विशेषता ये भी है कि श्रमिकों को एक हाथ अथवा एक पैर खराब होने पर ₹2 लाख की वित्तीय सहायता तथा एक पैर, एक आंख की खराबी पर ₹1 लाख की सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत स्थाई विकलांगता की स्थिति में जो 50 प्रतिशत से ज्यादा तथा 100 प्रतिशत से कम होने पर ₹1 लाख की सहायता की जाएगी तथा अगर विकलांगता की स्थिति 50 प्रतिशत से कम एवं 25 प्रतिशत से अधिक होगी तो लाभार्थी को कम से कम ₹50,000 की मदद की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 के तहत असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों के परिजनों को लाभार्थी की मृत्यु होने पर अथवा शारीरिक अक्षमता की स्थिति में वित्तीय लाभ प्राप्त होने से उन्हें काफी सहायता मिलेगी। जिस कारण परिजन अपने बच्चों की देखभाल व शिक्षा की व्यवस्था भी आसानी से कर सकते हैं।
  • इस योजना के लाभ मिलने से लाभार्थी के परिजनों को इलाज कराने पर तत्कालिक तौर पर काफी राहत मिलेगी, क्योंकि दुर्घटना होने की वजह से आर्थिक समस्या के कारण अधिकांश श्रमिक अपना इलाज नहीं करवा पाते हैं।
  • इस योजना का लाभ स्त्री व पुरुष दोनों को समान रूप से दिया जाएगा।

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Documents

  • आधार कार्ड, पैन कार्ड, श्रम कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • निवास प्रमाण पत्र फोटो
  • मोबाइल नंबर श्रम कार्ड
  • मृत्यु प्रमाण पत्र
  • नॉमिनी का प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • दिव्यांगता प्रमाण पत्र
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Eligibility

  • श्रमिकों को उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत पंजीकृत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को ही लाभ प्राप्त होगा।
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 का लाभ लेने के लिए श्रमिक की उम्र 18 साल से अधिक होनी जरूरी है।

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश शिशु हित लाभ योजना 2022

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Key Points

SchemeMukhyamantri Durghatna Bima Yojana
MotiveTo provide safety to poor people
LaunchBy UP Government
BeneficiaryCitizens of Utter Pradesh
Bima AmountRs. 2 Lakh Maximum
Year2022
Registration ProcessOnline & Offline

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Implementation

इस योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिकों को उत्तर प्रदेश के श्रम विभाग से संपर्क करना पड़ेगा तथा उन्हें श्रमिक विभाग के नाम एक आवेदन भी करना होगा। जिसमें उनको दुर्घटना का कारण तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आदि के बारे में भी जानकारी प्रदान करनी होगी। उसके बाद श्रम विभाग के अधिकारियों द्वारा आवेदन की अच्छे से जांच की जाएगी और फिर जांच रिपोर्ट को बीमा कंपनी एवं बैंक को भेज दिया जाएगा। अगर आवेदन में दी गई जानकारी पूरी तरह सही होगी तो आवेदन को स्वीकार किया जाएगा। उत्तर प्रदेश के राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड द्वारा ज्यादा से ज्यादा 15 दिनों के अंदर दुर्घटना के शिकार हुए श्रमिक को बीमा की राशि दे दी जाएगी।

यह भी पढ़ें- यूपी फ्री स्कूटी योजना 2022

Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana Registration Process

उत्तर प्रदेश के असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 का लाभ प्राप्त करने के लिए दुर्घटना होने के दिन से 30 दिनों के अंदर आवेदन करना जरूरी है। इस योजना में आवेदन करने के लिए श्रमिकों को उत्तर प्रदेश सरकार के राज्य सामाजिक शिक्षा बोर्ड के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा। मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 का आवेदन श्रमिक जिला श्रम कार्यालय में जाकर ऑफलाइन भी कर सकता है। ऑफलाइन मिले आवेदनों को आवेदक को श्रम कार्यालय द्वारा 48 घंटे के अंदर पोर्टल पर ऑनलाइन अपडेट करना होगा।

Wrapping Up

उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना का मूल्यांकन करने के बाद कह सकते है कि ये योजना असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों अथवा उनके परिवार के सदस्यों को सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा प्रदान करेगी। अतः ये भी कह सकते है कि मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के जीवन में काफी सकारात्मक बदलाव लेकर आएगी।

दोस्तों, उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना की जानकारी पसंद आई हो तो इसे जरूरतमंदों के साथ शेयर जरूर करें एवं इस योजना से जुड़ी हर नई अपडेट के लिए तथा भारत सरकार द्वारा निकाली गई अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी के लिए नोटिफिकेशन बटन जरूर दबाएं तथा हमारी वेबसाइट को भी फोलो करें।

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश स्टार्टअप पॉलिसी 2022

FAQ-

प्रश्न- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana क्या है ?
उत्तर- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana द्वारा उत्तर प्रदेश सरकार असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों को बीमा सुरक्षा प्रदान की करेगी।

प्रश्न- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana का उद्देश्य क्या है?
उत्तर- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana 2022 का उद्देश्य असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के परिजनों को सामाजिक एवं आर्थिक सहायता प्रदान करना है।

प्रश्न- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana में बीमा की राशि कितनी मिलेगी ?
उत्तर- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana में विकलांगता अथवा मृत्यु होने पर अधिकतम ₹2 लाख की राशि मिलेगी।

प्रश्न- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana का ऑनलाइन आवेदन कहां करना होगा ?
उत्तर- Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana 2022 के ऑनलाइन आवेदन के लिए लाभार्थी को राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड के पोर्टल पर जाना होगा।

प्रश्न – उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना की बीमा की राशि कितने दिनों में प्रदान की जाएगी?
उत्तर- मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना की राशि आवेदन करने के बाद से लाभार्थी को अधिकतम 15 दिनों के अंदर प्रदान की जाएगी।

प्रश्न- मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 के लाभ के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज क्या होने चाहिए ?
उत्तर- मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे जिला चिकित्सा अधिकारी द्वारा जारी किया गया मृत्यु प्रमाण पत्र, पोस्टमार्टम रिपोर्ट, श्रम कार्ड, नॉमिनी प्रमाण पत्र, अकाउंट नंबर , विकलांगता प्रमाण पत्र आदि होने चाहिए।

2 thoughts on “उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना 2022 | Mukhyamantri Durghatna Bima Yojana”

Leave a Comment